Social Icons

Pages

Wednesday, August 14, 2013

किश्तवाड़ हिंसा....

किश्तवाड़ में कितनी ही दामिनियों से सामूहिक बलात्कार किया जा रहा है , कितनी ही सोनी सोरियों के गुप्तांग में पत्थर डाले जा रहे हैं कोई पूछने वाला नहीं क्योंकि ये सब करने वाले "सदा सदा के पीड़ित समुदाय" से हैं , राज करने वाला भी एक कठमुल्ला है और केंद्र को भी पोप के एजेंट चला रहे हैं , मानवाधिकार वाले सऊदी अरब के डॉलर पर जिन्दा हैं | इनके विरुद्ध खड़े नहीं हुए तो मरना सभी हिन्दुओं को पड़ेगा किन्तु किश्तों में , दारुल उल हर्ब को दारुल उल इस्लाम रात ही रात में नहीं बनाए जाते ,समय लगता है | कम से कम ऐसे कठिन वक्त पर तो हिन्दुओ को एक होना चाहिए , बाकी आरक्षण की लड़ाई लड़ते रहिए कौन रोक रहा है , किन्तु योजनाबद्ध तरीके से हिन्दुओं का सफाया किया जा रहा हो तब तो यूनिटी दिखाइए | नवादा में भी तो दंगा इसलिए किया गया कि बाबा होटल वाले ने सावन के महीने में चिकन बनाने से मना कर दिया , फिर बाबा होटल में कांवरियों के लिए खाना बनता था | सिर्फ मुसलमानों के लिए चिकन नहीं बनाया तो पुरे नवादा में मुसलमानों ने आग लगा दी , क्या इस देश में हिन्दू अपने बच्चे भी नहीं पाल सकते ? इन जिहादियों के खिलाफ एकजुट होना ही होगा वर्ना इनकी संस्कृति के नमूने सीरिया, ईराक, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, मिस्र कहीं भी देख लीजिए सिवा तबाही के कुछ नहीं|

No comments:

Post a Comment

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने-आप Blog पर लाइव होते हैं। हमने फिल्टर लगा रखे हैं ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द या कॉमेंट लाइव न होने पाएं। लेकिन अगर ऐसा कोई कॉमेंट लाइव हो जाता है जिसमें अनर्गल व आपत्तिजनक टिप्पणी की गई है, गाली या भद्दी भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है, तो उस कॉमेंट के साथ लगे Email करें। हम उस पर कार्रवाई करते हुए उसे जल्द से जल्द हटा देंगे।

 

Sample Text

 
Blogger Templates